True Love Story | सच्चे प्यार की कहानी |

💛💙My Real Life Love Story Part 1💛💙





Hindi love story
Love story


स्कूल में हमारे बहुत सारे दोस्त बनते हैं लेकिन कई बार यह दोस्ती बहुत ज्यादा गहरी होती है और ताउम्र साथ चलती है और यह दोस्ती लड़की-लड़की, लड़का-लड़की,  और लड़का-लड़का किसी की भी हो सकती है और स्कूल में हम सबके साथ ऐसा तो जरूर होता ही है कि जिस क्लास में हम पढ़ते हैं उसी क्लास में कोई लड़की होती है और हमारे दोस्त हमें चिढ़ाना शुरू कर देते हैं और हम शर्मा जाते हैं कुछ बोलते नहीं हैं लेकिन बाद में हमें एहसास होता है कि कुछ तो है? 😍♥️


यह कहानी मेरी अपनी है जो अभी तक चल रही है काफी अजीब सी कहानी है और यह कहानी पता नहीं कितने पार्ट में पूरी होगी यह तो वक्त ही बताएगा लेकिन यह Part 1 है

कहानी शुरू तब से होती है जब मेरा स्कूल कक्षा 5 वीं से  कक्षा 6 में जाने के लिए बदल जाता है मतलब यह कि मैंने कक्षा 5 दूसरे स्कूल में पढ़ा और कक्षा 6 दूसरे स्कूल में, चलो पहले मैं अपना परिचय दे देता हूं मेरा नाम अर्जुन है और मैं दूर पहाड़ों में कहीं रहता हूं उत्तराखंड की वादियों में एक पहाड़ी लड़का जो हमेशा अकेला रहता है ज्यादा दोस्त नहीं है लेकिन जितने भी हैं बहुत खास है यहां गांव में लड़के तो बहुत होते हैं लेकिन ना तो मेरी उनसे दुश्मनी है और ना ही ज्यादा गहरी दोस्ती पर हां वह भी मेरे दोस्त ही है लेकिन कुछ लोग होते हैं जिनके साथ हम ज्यादा समय बिताना पसंद करते हैं ऐसा इसलिए कि सभी का अपना अलग टेस्ट होता है और सभी के विचार आपस में हमेशा नहीं मिलते हैं|



Love story in hindi
Love story


🛑🌹🥀🌺🌻🌼🌷🌱🌲🌳🌴🌿☘️🍀🍁
तो कहानी कुछ ऐसी शुरू होती है, जब मैं पहले दिन कक्षा में जाता हूं तो बहुत ज्यादा डरा हुआ था क्योंकि वहां के एक अध्यापक जो बाद में मेरे मनपसंद टीचर बने बहुत खतरनाक हैं, पढ़ाई के मामले में और मैं कक्षा 6 में हूं लेकिन मुझे ABCD भी पूरी नहीं आती है लेकिन मैं अपनी क्लास में पहले स्थान पर था मुझे ABCD नहीं आती इसका मतलब यह बिल्कुल भी नहीं था कि मुझे पढ़ना नहीं आता था बल्कि इसका मतलब यह था कि मैं उनके क्रम में नहीं उनकी उपयोग में विश्वास रखता हूं इसीलिए मुझे आज तक ABCD याद नहीं हुआ जबकि मैं कॉलेज का स्टूडेंट हूं यही एक कारण था कि मैं शुरू दिन बहुत डरा हुआ था वहां एक लड़की थी जो बहुत ज्यादा समझदार थी जिसे लगभग सभी चीजें अच्छे से याद थी| यह पहली बार था जिसकी वजह से मेरा ध्यान उसकी तरफ गया जैसा कि मैंने शुरुआत में ही बता दिया कि मैं एक शांत और अकेला रहने वाला लड़का हूं जो ज्यादा समय अकेले में खुद के साथ बिताना पसंद करता है जो घंटों तक अकेले बस किसी चीज को बेमतलब का घूरता रहता हूं और हर समय गाल पर हाथ लगाये कुछ सोचता रहता हूं, मैं वास्तव में कुछ कारणों से और लोगों से अलग हूं जैसे कि मैंने कभी भी किसी मंत्री, प्रधानमंत्री का नाम याद नहीं किया क्योंकि मुझे आज भी लगता है कि इन्होंने तो कुछ समय बाद बदल जाना है मैं इनके नाम याद रखकर क्या करूंगा लेकिन इसका मतलब यह नहीं था कि मैं पूरी तरह से मूर्ख था बल्कि क्योंकि मुझे लगता था कि जो चीजें ज्यादा जरूरी हैं केवल उन पर ध्यान दो वैसे मैं बता दूँ कि मैंने उसी स्कूल की लाइब्रेरी की सारी किताबें पढ़ी थी ! कहानी वाली 😁 !
 सामान्य दिनों की तरह ही सभी बच्चे जिनसे डरते थे जिनका नाम है गुप्ता सर गणित वाले जब हम उन्हें दूर से स्कूल की तरफ आता देखते थे तो हम सब डर जाते थे जैसा कि मैंने बताया कि मैं पहाड़ों में रहता हूं इसलिए यहां सब कुछ दूर से ही दिख जाता है उस दिन गुप्ता सर ने गणित का एक कठिन सवाल पूछ लिया पूरी कक्षा में उस सवाल का उत्तर किसी को नहीं पता था लेकिन मैंने बता दिया जिस वजह से जिस लड़की की मैं बात कर रहा हूं रोशनी को मुझ पर बहुत गुस्सा आ गया था  उसे मुझ से प्रतिस्पर्धा पैदा हो गई उस दिन मैंने उसकी आंखों में गुस्सा देखा 🤪😰😠😱
आगे की कहानी Part 2 में 
Comment कर के हमें जरूर बताएं 



Part 2 Comning Soon.......

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Love Shayari | शायरी मेरे प्यार की | प्यार की शायरी |

Army Quotes | Indian Army Shayari | Jai Hind | देशभक्ति शायरी |

True love story | Hindi Story | love story |

कबीर के दोहे | कबीर का जीवन परिचय | Kabir Biography | kabir das dohe |

Gay Story in Hindi - गे स्टोरी

Mirza Ghalib Poetry In Hindi - मिर्ज़ा ग़ालिब शायरी

Shin Chan Real Life Story - शिनचैन की असली कहानी

शायरी मेरे प्यार की | Hindi Love Shayari | Love Shayari |

Sad Shayari | sad Shayari in hindi | दर्द भरी शायरी | शायरी मेरे प्यार की |